Seva Bhoj Yojana: अब नही  लगेगा सेवा में इस्तेमाल हुए चीजो पर GST

Seva Bhoj Yojana:  सेवा, जिसे भारत के शास्त्रों में सर्वोच्च धर्म बताया गया है, आज भी भारत के कई गुरुद्वारों, मंदिरों, मस्जिदों और अन्य धार्मिक स्थानों पर पूरी श्रद्धा और परंपरा के साथ सेवा भोजन कराया जाता है।और ,इसी परंपरा को आगे बढ़ाने के लिए भारत सरकार ने सेवा भोजन योजना शुरू की इसमें कहा गया है कि धार्मिक स्थलों में इस्तेमाल होने वाले खाद्य पदार्थों पर कोई टैक्स नहीं लगेगा, इसलिए वे वस्तुएं भी सस्ती हो जाएंगी और सभी धार्मिक स्थलों पर पूरी निष्ठा के साथ भोजन परोसा जा सकेगा।आज हम इसी योजना के बारे में पूरी जानकारी लेकर हम आपके साथ  लेकर आये हैं। 

Seva Bhoj Yojana का मुख्य उद्देश्य

इस योजना के अंतरगत केंद्रीय वस्तु एवं सेवा कर और केंद्र सरकार की हिस्सेदारी एकीकृत वस्तु एवं सेवा कर जो खाने की चीजों पर लगता है उन पर टैक्स नही लगेगा । जिससे  धार्मिक स्थल और तीर्थ स्थल और भंडारे की जगह पर इस्तमाल होने वाले खानों पर इस प्रकार का कोई भी टैक्स नहीं लगेगा जिसे कि वहां इस्तमाल होने वाले चीजों का दाम अपने आप ही काम हो जाएगा जिसमें हर व्यक्ति को भंडारा या तीर्थ स्थलों के द्वार भोजन प्राप्ति होगी और वह कभी भी भूखा नहीं रह पाएगा यह एक छोटा पर  महत्वपूर्ण कदम है जिस से मानवता की सुरक्षा होगी। 

इस योजना का लाभ उन संस्थानों को दिया जाता है जो खाना या लंगर या भंडारा बिना किसी फीस के करते हैं और ,जो बिना किसी भी भेदभाव के हर व्यक्ति को मुफ्त में खाना खिलाते हैं। यह ,केंद्रीय योजना सिर्फ उन लोगों को भारत सरकार द्वारा दी जाती है ।।

Seva Bhoj Yojana

Seva Bhoj Yojana के तहत समर्थित गतिविधियों के प्रकार

  1. निशुलक भोजन और लंगर उपलब्ध कराना
  2. भक्तों को फ्री में भोजन कराना
  3. इसमें गुरुद्वारे धार्मिक आश्रम दरगाह आदि सभी शामिल हैं
  4. प्रथम सह प्रथम पाव पंजीकरण के आधार प्रति वित्त सहायता प्रदान की जाएगी। इसके ,अलावा यह वित्त वर्ष में उपलबध प्रति निर्भर करेगा

FAQ/S

 1. Seva Bhoj Yojana कब शुरू हुई थी? 

इस योजना को भारत सरकार द्वार एक अगस्त 2018 को शुरू किया गया था। 

2. Seva Bhoj Yojana मे क्या फायदा मिलता है? 

Seva Yojana  के अंदर मंदीर, मस्जिद और अन्य तीर्थ स्थल में इस्तेमाल होने वाले खाने पर अन्य चीजों पर टैक्स नहीं लगता। 

3. कितने लोगो कोSeva Bhoj Yojana का budget क्या है? 

सेवा भोजन योजना का कुल budget 322 करोड़ रुपये से भी अधिक है।  

योजना का नाम उद्देश्य पात्रता मानदंड लाभ
सेवा भोज योजना 1 धार्मिक स्थलों पर भोजन का प्रदान मंदिर, धार्मिक संस्थान भोजन में सहायता और अनुदान
सेवा भोज योजना 2 सामाजिक और सांस्कृतिक कार्यों का समर्थन समाज के संगठन सामूहिक भोजन के लिए वित्तीय सहायता

 

Seva Bhoj Yojana

निष्कर्ष

Seva Bhoj Yojana की सहायता केवल उन लोगों को भारत सरकार द्वारा दी जाती है जो बिना किसी भेदभाव के हर व्यक्ति को फ्री में खाना खिलाते हैं और फ्री में भंडारा देते हैं।

Seva Bhoj Yojana भारत सरकार द्वारा वर्ष 2018 में शुरू की गई थी । जिसके अंदर भारत सरकार राष्ट्र सामग्री पर जीएसटी माफ कर देती है। जिसे तीर्थ स्थल या धार्मिक स्थानों में इस्तमाल करने के लिए ले जाया जाता है। इस से भारत में हो  रहे भंडारे या अन्य लोक सुविधाएं और तेजी से और बेहतर ढग से चलेंगे और भारत में कोई भी व्यक्ति भूख नहीं रह पाएगा । इसी योजना से जुड़ी आज सारी जानकारी हमने आपको अपने ब्लॉग से प्रदान की है। 

Read More:

Green Credit Scheme: बदलेगा भारत के पर्यावरण क्षेत्र को 2070 के 0 एमिशन टार्गेट को पाने मे करेगा मदद

Samarth Yojana: बदलेगा भारत के कपड़ा उद्योग को और देगा नई दिशा

Stay updated with all the news by following Upyogi portal on Telegram, and Whatsapp Channel.

Thanks For Connecting With Upyogiportal.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top